पांच तरह के जन्माष्टमी भोग जो सेहत के लिए अत्यंत लाभदायी है | Janamashtmi bhog in hindi

भगवान श्री  कृष्ण के जन्मोत्सव की खुशी सबको होती है और इस मोके पर हर कोई अलग अलग तरह के भोग भगवान को अर्पण करता है। इस आर्टिकल मे हम ऐसे जन्माष्टमी भोग  के बारे में बता रहे हैं जो कि आपकी सेहत के लिए भी अत्यंत फायदेमंद हैं ।

1. मिश्री मक्खन

makhan mishri
Source: Indiatimes

मक्खन और मिश्री भगवान श्री कृष्ण को अत्यंत पसंद है।  इसका भोग जन्माष्टमी के दिन लग भग हर जगह लगाया जाता है। इसको बनाना बहुत ही आसान है। आप लग-भग २५० ग्राम मक्खन  में १०० ग्राम मिश्री डाल दें और उसे अच्छी तरह से मिला दें । मिलाने के बाद आपका मक्खन मिश्री  का जन्माष्टमी भोग तैयार है| अगर मक्खन  घर पर निकाला गया हो तब तो बहुत ही लाभदायक है।

फायदे

  • विटामिन्स और मिनरल्स से भरपूर होता है।
  • दिमाग को चुस्त व दरुस्त करता है।
  • ब्लड प्रेशर नियंत्रण में रखता है।
  • बीमारी से लड़ने की शक्ति हो बढ़ाता है।

2. बादाम खीर

kheer janamashtmi bhog
Source: Youtube

बादाम खीर एक ऐसा भोग है जो हर कोई खुश हो कर खाता है। इसमें जो पदार्थ होते है वो हमारे लिए बहुत ही लाभदायक होते है। बादाम खीर को बनाने के लिए आपको चाहिए – दूध, केसर, काजू, बादाम, सूजी, घी|

फायदे

  • अपने शरीर को तुरंत शक्ति देता है।
  • पाचन शक्ति ठीक रखने मे मदद करता है।
  • त्वचा देखभाल में मदद करता है।
  • हाई ब्लड प्रेशर को कंट्रोल करता है।

3. हल्दी पंजीरी

हल्दी पंजीरी जन्माष्टमी भोग
Source: Indiatimes

हल्दी पंजीरी एक पारम्परिक जन्माष्टमी भोग है। इसे बनाने के लिए हमे चाहिए – धनिया के बीज के पाउडर, चीनी, घी (देसी), काजू, बादाम, किशकिश और मिश्री।

फायदे

  • हड्डियों को मजबूत रखने मे बहुत ही लाभ दायी है।
  • पाचन शक्ति दरुस्त रखती  है |

4. गुड़ मखाना

gur makhana janamashtmi bhog
Source: blogspot

फायदे

  • कैल्शियम से भरपूर होता है।
  • हड्डियों को मजबूत करता है।।
  • पाचन शक्ति अच्छी रखता है|

5. दूध और शहद

दूध और शहद

जन्माष्टमी भोग मे दूध और शहद की बहुत महत्व है। यह न तो केवल हमारे स्वास्थ्य के लिए बहुत ही फायदेमंद है बल्कि इसका मिश्रण बहुत सी जगह पर पूजा के बाद प्रसाद के रूप मे दिया जाता है।

फायदे

  • हमारी आखो के लिए बहुत ही लाभदायक है।
  • शहद बच्चों में खांसी को रोकने में मदद कर सकता है